भोपाल में लॉक डाउन का निर्णय, सरकार की जल्दबाजी और अदूरदर्शी सोच- जीतू पटवारी

0
213
  • बिना प्लानिंग के लाकडाऊन सरकार का कोरोना पर हर दिन बदलता रहा स्टैंड |
  • हर जन-हितैषी निर्णय में कांग्रेस देगी जनता का साथ |

अहिल्या टाइम्स भोपाल : मध्यप्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने जारी एक बयान में कहा कि भोपाल में 10 दिन के लॉक डाउन का निर्णय जल्दबाजी में और बिना दीर्घकालिक सोच के लिया गया प्रतीत होता है। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार के किसी भी निर्णय से यदि जनता को लाभ होता है तो कांग्रेस सरकार का साथ देगी।

जीतू पटवारी ने कहा कि एक सप्ताह पहले ही मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्रदेश में लॉकडाउन लगाने की कोई योजना नहीं है । उसके सात दिन बाद ही लॉकडाउन लगाने का यह निर्णय हैरान करने वाला है। इससे जाहिर होता है कि कोरोना से निपटने के लिए सरकार के पास कोई योजना नहीं है और वह पल पल अपने निर्णय बदलती रही है।

जीतू पटवारी ने सवाल किया कि क्या जनता और सरकार के लिए नियम अलग अलग हैं ? अगर नहीं तो जब मंत्री  अरविन्द भदौरिया कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं और कल की कैबिनेट बैठक में मौजूद थे | तो मुख्यमंत्री सहित पूरी केबिनेट क्वारंटीन क्यों नहीं हुई? उन्होंने कहा कि चूंकि भाजपा का ग्राफ पूरे देश में गिरता जा रहा है | इसलिए सरकार उपचुनाव को टालना चाहती है और इसके लिए माहौल तैयार कर रही है।

जीतू पटवारी ने “किल कोरोना” अभियान पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार ने बड़े जोर शोर से “किल कोरोना” अभियान की शुरुआत की थी लेकिन वह केवल दिखावटी बनकर रह गया है। उन्होंने याद दिलाया कि कुछ समय पूर्व खुद मुख्यमंत्री शिवराज चौहान जो कह चुके हैं कि करोना सर्दी जुकाम से ज्यादा कुछ नहीं है, जो उनकी कोरोना को लेकर समझ उजागर करता है।

जीतू पटवारी ने जनता को कोई भी परेशानी न हो इसलिए ये मांग की है की –

(1) विद्यार्थी एवं नौकरी करने वाले लोग जो टिफिन द्वारा भोजन प्राप्त करते हैं इन 10 दिनों में उनके भोजन की वैकल्पिक व्यवस्था सरकार करे।
(2) वे मजदूर जो रोजाना कमा कर रोज खाते हैं उनके भोजन की व्यवस्था सरकार करे।
(3) किसी भी व्यक्ति की तबियत खराब होने की स्थिति में तुरंत एम्बुलेंस सुविधा उपलब्ध हो।
(4) ईद और रक्षाबंधन के दौरान लोगों को कोई समस्या न आये।
(5) सभी सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों की १० दिन के दौरान कोई वेतन नहीं काटा जाए ।सरकार यह सुनिश्चित करे।
(6) दूध, सब्जियां, फल, दवाइयां, किराना एवं सभी आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी सरकार सुनिश्चित करे।

उन्होंने मुख्यमंत्री जी से आग्रह किया कि जिन प्रदेशों और देशों ने कोरोना पर नियंत्रण पाया है वहां की स्टडी करके कुछ कोई ठोस योजना बनाए। हर 2 दिन में रणनीति बदलने से स्थिति बिगड़ेगी ही सुधरेगी नहीं।

जीतू पटवारी ने चेतावनी दी है कि इन 10 दिनों में यदि जनता को कोई भी परेशानी हुई तो कांग्रेस पार्टी जनता की बात प्रखरता एवं मुखरता से उठाएगी और प्रदेश सरकार को घेरेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here