पजामा छाप साबित हुई धारा 144, खरी खरी

0
149

अशोक शर्मा की कलम से..

भीड़ का समीकरण – पंजाब हरियाणा फूल जाम पड़ा है । बाबा राम रहीम कोर्ट में पेश होने वाले है । ट्रेने भी रद्द हो गई है पंजाब हरियाणा जाने वाली । अब तक बड़े बड़े नेताओ को सुनने के लिए किराए की भीड़ लाते हुए देखा था । कई बार नेता ठीक ठाक बोलने वाला होता है लेकिन लोग सुनने की जहमत नही उठाना चाहते । यह कमी उनके पेड़ कार्यकर्ता किराए की बसे लगा कर भीड़ भर कर ले आते है । अब तो इस भीड़ में शामिल होने के रूपये भी मिलते है । आज कल लोग प्रमोशन के लिए सलमान और शाहरुख़ को भी नही देखने आते है । नेता अभिनेता तो ठीक है पर अब तो बाबा ने गजब कर दिया , दो स्टेट को ही जाम कर दिया । गिरफ्तारी जो हो सकती है बाबा की । तो अब बाबा के बाद आसारामजी , के भी दरवाजे खुल गए , गिलानी , अबू सालेम भी अपने समर्थको को बुलवा कर जेल का घेराव करवा सकते है । आज कल लोग पडोसी के फ़टे में पाव नही डालते । यहाँ हजारो की तादाद में लोग पहुच गए , भाई बिना नोट के नही होता ऐसा काम । दाऊद भी समर्पण करना चाहे तो देश भर से भीड़ का मेनेजमेन्ट कर सकता है ।
साली धरा 144 तो पजामा छाप साबित हुई वहा । कलेक्टर – DGP बाबा के चपरासी बन कर घूम रहे है वह पर ।
वैसे भी मोदी राज में नए नए आयाम बनने की संभावना है ।
कोई आंदोलन नही – कोई मांग नही सिर्फ प्रेशर
ही प्रेशर । हाय कोर्ट भी ऊपर निचे हो गई ।

यह लेखक के निजी विचार हैं जिसके लिए वे स्वयं जिम्मेदार हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here