इनकी आँखे नहीं हाथों में है जादू

0
83
इंदौर. दृष्टिबाधितों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिये जिला प्रशासन द्वारा एक अभिनव पहल की गयी । जिसके तहत दृष्टिबाधितों को उनकी स्पर्श विशेषज्ञता का देखते हुए पंच स्पर्श एक्यू मसाज थैरेपी का विशेष प्रशिक्षण दिलाया गया । ये प्रशिक्षित दृष्टिबाधित जरूरतमंदों को घर पर जाकर सेवाएं दे रहे हैं तथा उनकी पंचस्पर्श एक्यू मसाज कर रहे हैं। जिला प्रशासन के इस अभिनव प्रयोग को काफी प्रतिफल मिला और लोग उनसे मसाज कराकर लाभान्वित हो रहे हैं।
सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग ने दृष्टिबाधितों की आय को बढ़ाने तथा जरूरतमंदों की सुविधा के लिये प्रशिक्षित दिव्यांगजनों से सम्पर्क हेतु उनके मोबाइल नम्बर भी प्रसारित किए हैं, ताकि जरूरतमंद उनको बुलाकर लाभ उठा सके। घर पहुंच सेवा देने वाले दृष्टिबाधितों में सुरेश मोबाइल नम्बर 98261-34353 सेवा क्षेत्र विजयनगर, पलासिया व नंदानगर, चेतन मोबाइल नम्बर 88896-96685 सेवा क्षेत्र महूनाका से राजेन्द्र नगर तक, धर्मेन्द्र मोबाइल नम्बर 89825-14117 सेवा क्षेत्र विजयनगर, पलासिया, नंदानगर, योगेश मोबाइल नम्बर 98266-52091 सेवा क्षेत्र भागीरथपुरा, परदेशीपुरा, बाणगंगा, सुमित मोबाइल नम्बर 98264-37556 सेवा क्षेत्र किलामैदान, मरीमाता व बड़ी गणपति, मोहन मोबाइल नम्बर 95847-18819 धार रोड, सिरपुर, चंदन नगर, सतीश मोबाइल नम्बर 98265-73811 सेवा क्षेत्र राऊ, महू परिक्षेत्र, पीथमपुर, रमेश मोबाइल नम्बर 9111773630 सेवा क्षेत्र बॉम्ब अस्पताल शीतल नगर, लीलाधर मोबाइल नम्बर 98260-76748 सेवा क्षेत्र एयरपोर्ट गांधी नगर, कालानी नगर, राजेश मोबाइल नम्बर 98648-94024 सेवा क्षेत्र सुखलिया, बापट चौराहा शामिल हैं। दृष्टिबाधित पंचस्पर्श एक्यू मसाज थैरेपी के तहत हेड, सोल्डर, फूट एण्ड कम्पलीट बॉडी रिलेक्स एक्यू मसाज, स्पोर्टसमैन बाडी रिलेक्स एण्ड स्टूडेन्टस माइंड रिलेक्स एक्यू मसाज के अलावा वृद्धजनों एवं बच्चों की रेग्युलर एक्यु मसाज व एक्यूप्रेशर थैरेपी सेवाएं देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here