माँ की जान बचाने का बीड़ा अब उठाएगा शहर

0
90

इंदौर, हर साल प्रसव के दौरान या अन्य गंभीर बीमारियों की चपेट में आकर हजारों महिलाएं अपनी जान गवा देती हैं। यदि इन्हे उचित समय पर सही देखभाल और इलाज मिल जाए तो इनकी जान बचाई जा सकती हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए फेडरेशन ऑफ़ आब्सटेट्रिक्स एंड गायनोकॉलोजीसोसाइटी ऑफ़ इंडिया तथा इंडियन कॉलेज ऑफ़ आब्सटेट्रिक्स एंड गायनोकॉलोजी ‘क्रिटिकल केयर इन आब्सटेट्रिक्स’ विषय पर शहर में दो दिनी नेशनल कॉन्फ्रेंस कराने जा रहा है। 23वीं  व24वीं सितम्बर को ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में होने वाली इस कॉन्फ्रेंस भाग लेने के लिए देश भर से 600 से अधिक डेलीगेट्स और एक्सपर्ट्स आएंगे। ऑर्गेनाइजिंग चेयरपर्सन डॉ आशा बक्शी ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में दोनों दिन कई लेक्चर्स होंगे। साथ ही गंभीर परिस्थिति में महिलाओं को दिए जाने वाले इलाज की हैंड्स ऑन ट्रेनिंग भी वर्कशॉप में कराई जाएगी। कांफ्रेंस के माध्यम से देशभर के डॉक्टर्स व नर्सिंग स्टाफ को प्रसव के दौरान महिला की गंभीर स्तीथी को सँभालने की ट्रेनिंग दी जाएगी। कांफ्रेंस का मुख्य उदेश्य मात्रमृत्यु दर को कम करना है। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन होगी। इस अभियान को अभिनेत्री टिस्का चौपड़ा भी सपोर्ट कर रही है।

*हिंसा के खिलाफ होगी मेराथन*
कॉन्फ्रेंस की ऑर्गेनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ अर्चना बसेर ने बताया कि 23वीं सितम्बर को कॉन्फ्रेंस सुबह 08 बजे से शुरू होगी इसका औपचारिक शुभारम्भ शाम को होगा। 24वीं तारीख को सुबह 06:30 बजे महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा के विरोध में मेराथन भी निकली जाएगी। कांफ्रेंस में डेलिगेटस को ऑर्गन डोनेशन की जानकारी देने के लिए विशेष सत्र का आयोजन रखा गया है, जिससें डेलिगेटस अपने शहरों में डोनेशन के प्रति जागरूकता लाने में मदद कर सके।

*यह एक्सपर्ट्स होंगे शामिल*
ऑर्गेनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ कविता बापट ने बताया कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए युएसए से डॉ कोविद त्रिवेदी और मलेशिया से डॉ जे रविचंद्रन आएंगे। केरल से डॉ वीपी पैली, हैदराबाद से डॉ ई फर्नांडिस और दिल्ली से ख्यात प्रोफेसर जे.सी.सूरी भी कांफ्रेंस में शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here