10% तक बढ़ सकती हैं टीवी, फ्रिज जैसे घरेलू सामानों की कीमतें

0
184

नई दिल्ली. टीवी, फ्रिज, एसी, मोबाइल फोन, वॉशिंग मशीन ओर किचन अप्लायंसेस जैसे टिकाऊ उपभोक्ता सामान की कीमतें 3 से 10% तक बढ़ सकती हैं। कंपनियों ने अक्टूबर में दाम बढ़ाने का मन बनाया था। लेकिन त्योहारी सीजन की वजह से इसे टाल दिया था। तीन बड़े ब्रांड एलजी, सैमसंग और सोनी ने अपने उत्पादों के सामान्य बिक्री मूल्य पर 10% तक की छूट के लिए दी जाने वाली मदद पहले ही वापस ले ली है। श्याओमी, हायर, सीमेंस और बॉश जैसी कंपनियां भी अपने उत्पादों के दाम बढ़ा रही हैं।
बिक्री पर छूट पहले ही वापस ले चुकी हैं बड़ी कंपनियां
कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स और अप्लायंसेस बनाने वाली कंपनियों के संगठन सिएमा के प्रेसिडेंट कमल नंदी के मुताबिक, कुछ कंपनियों ने सितंबर में दाम बढ़ाने का फैसला किया था। लेकिन उसे अब लागू किया जाएगा।
उद्योग के प्रतिनिधियों के मुताबिक बड़ी कंपनियां आमतौर पर दिवाली के दौरान ऑफलाइन रिटेलरों को मदद देती हैं। लेकिन यह कभी भी इस साल की तरह 10% जितनी अधिक नहीं रही। ज्यादातर मदद प्रीमियम रेंज के लिए दी गई। कंपनियां इस रेंज में आने वाले प्रोडक्ट्स के दाम सबसे अधिक बढ़ाएंगी।
श्याओमी ने एक हफ्ते पहले ही टीवी की कीमतें 2,000 रुपए तक बढ़ाई हैं। बीएसएच हाउसहोल्ड अप्लायंसेस जो सीमेंस और बॉश की प्रोडक्ट्स बेचती है। इस कंपनी के एमडी गुंजन श्रीवास्तव ने कहा कि कंपनी दाम बढ़ाने पर विचार कर रहे हैं।
यर इंडिया के प्रेसिडेंट एरिक ब्रेगेंजा ने कहा कि उनकी कंपनी ने त्योहारी सीजन में कीमतों में बढ़ोतरी टाल दी थी। पिछले सप्ताह इसमें 5%-8% तक बढ़ोतरी की है।
त्योहारी सीजन में बिक्री 12-15% तक बढ़ी
सिएमा ने इस साल त्योहारी सीजन में बिक्री 10% तक बढ़ने का अनुमान जताया था। लेकिन कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स आयटम बनाने वाली कंपनियों ने बिक्री में 12-15% तक बढ़ोतरी होने की जानकारी दी है। हालांकि केरल की बाढ़, ईकॉमर्स कंपनियों द्वारा ज्यादा डिस्काउंट देने से मांग जरूर प्रभावित हुई।
पिछले कुछ दिनों में रुपया मजबूत हुआ है। इसके बावजूद कंपनियों का कहना है कि उनके मार्जिन पर दबाव बना हुआ है। उन्होंने अपने उत्पादों के दाम एक डॉलर की 68.5 रुपए बेंचमार्क कीमत मानते हुए तय की थी। फिलहाल यह 72 के आसपास चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here