महिलाओं ने रात में लाठी उठाकर उतारा शराबियों का नशा, पुलिस ने किया शांत

0
305

इंदौर। सोमवार रात अचानक एमआर-9 रोड की शराब दुकान पर भगदड़ मच गई। सैकड़ों महिला-पुरुष लाठी लेकर यहां पहुंचे और शराबियों पर टूट पड़े। अचानक हुए इस हमले से क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। लोग गाड़ियां उठाकर भागने लगे। लोगों ने पहले दुकान में तोड़-फोड़ की और फिर दुकान हटाने की मांग को लेकर चक्काजाम कर दिया। पुलिस मौके पर पहुंची तो महिलाएं पुलिस अधिकारियों पर भी जमकर बरसी बाद में वरिष्ठ अधिकारियों के आश्वासन पर प्रदर्शन समाप्त हुआ।

महिलाओं ने बताया कि यहां दो मल्टी हैं जिनमें करीब सवा सौ परिवार रहते हैं। प्रशासन ने मल्टी से लगे एक खाली प्लॉट पर शराब की दुकान खोलने की अनुमति दे दी थी। इस दुकान को हटवाने के लिए रहवासी लगातार पुलिस और प्रशासन से गुहार लगा रहे थे लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। सोमवार रात नाराज रहवासियों ने खुद मैदान संभाल लिया। बड़ी संख्या में महिला और पुरुष रात में हाथ में लाठी लेकर वाइन शॉप पहुंचे और देखते ही देखते उन्होंने शॉप के बाहर जाम छलकाने वाले लोगों पर लाठियां बरसानी शुरू कर दी। अचानक हुए इस हमले से दुकान के कर्मचारी और ग्राहकों के होश उड़ गए, पहले उन्होंने पलटकर वार करने की सोचा लेकिन सामने से आई लोगों की भीड़ और खासकर महिलाओं के तेवर देखकर उनके हौंसले पस्त हो गए, कर्मचारी दुकान के पास की जगह में दुबक गए और ग्राहक गाड़ियां उठाकर भागने लगे। कुछ लोगों ने मोबाइल से वीडियो बनाने की कोशिश की तो महिलाओं और पुरुषों ने उनसे मोबाइल लेकर हाथो-हाथ गैलरी ही डिलीट कर दी। इसके बाद आक्रोशित भीड़ ने चौराहे पर चक्काजाम कर दिया। खजराना टीआई कमलेश शर्मा उन्हें समझाने पहुंचे तो महिलाओं ने उन्हें जमकर आड़े हाथ लिया। महिलाएं बोलीं यदि पुलिस अपनी जिम्मेदारी समझती तो हमें ये कदम नहीं उठाना पड़ता। वे कलेक्टर को मौके पर बुलाने की बात पर अड़ गई। करीब डेढ़ घंटे तक चले हंगामे के बाद सीएसपी गोपाल धाकड़ ने रहवासियों को आश्वस्त किया कि आवेदन पर वे दुकान हटवाने के लिए नियमानुसार पूरी मदद करेंगे। तब जाकर लोगों ने चक्काजाम खोला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here