पीपल्याहाना तालाब के पास बनेगा मां अहिल्या म्यूजियम : महाजन

0
243

इंदौर. मां अहिल्या सदन के निर्माण के साथ ही पीपल्याहाना तालाब के पास एक म्यूजियम भी बनाया जाएगा। इसमें आईडीए देवी अहिल्या उत्सव समिति का सहयोग करेगा। तालाब के पानी में मां अहिल्या के जीवन के प्रसंग पर आधारित लाइट एंड साउंड शो भी शुरू किया जाएगा, ताकि युवा पीढ़ी देवी अहिल्या के जीवन चरित्र को जान सके। वहां युवतियों के लिए भी विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम होंगे। यह बात सोमवार को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने प्रिंस यशवंत रोड स्थित मां अहिल्या सदन के भूमिपूजन के दौरान कही। उन्होंने कहा कि 67 साल पुराने जीर्णशीर्ण भवन की जगह नया तीन मंजिला भवन बनेगा। उसमें दो मंजिलों पर माता अहिल्या के जीवन पर आधारित आर्ट गैलरी रहेगी। एक अन्य मंजिल पर हॉल और ऑफिस होगा। मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि जब मैं चौथी में था तब मां द्वारा देवी अहिल्या पर लिखी किताब को पढ़कर उनके बारे में जाना। नागपुर में जिस तरह से हमने स्वामी विवेकानंद का स्मारक बनाकर उनके जीवन प्रसंगाें को लोगों तक पहुंचाया। उसी प्रकार इंदौर में भी माता अहिल्या के जीवन प्रसंग को लेकर काम हो सकता है। प्रोजेक्ट अच्छा हुआ तो मैं उसमें मंत्रालय की ओर से धनराशि स्वीकृत करवा दूंगा। व्यक्ति गुणों से बड़ा होता है। आज महिलाएं हर क्षेत्र में पुरुषों के बराबर या उनसे आगे हैं। ऐसे में उनके लिए अत्याधुनिक ट्रेनिंग को लेकर भी कार्यक्रम किए जा सकते हैं। कार्यक्रम में विशेष रूप से मध्य प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह, महापौर मालिनी गौड़, आईडीए अध्यक्ष शंकर लालवानी, विधायक सुदर्शन गुप्ता, रमेश मेंदोला और उषा ठाकुर मौजूद थे। स्वागत भाषण संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक डागा ने दिया। इस दौरान सचिव विट्‌ठलराव गावड़े, सदस्य कृष्णकुमार अष्ठाना, ज्योत्सना कराते, रामस्वरूप मूंदड़ा विनीता धर्म आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here