ग्वालियर : पुलिस के सामने हुई फायरिंग, फौजी के भाई की मौत, पिता घायल

0
234
ग्वालियर. मकान के सामने सड़क की जमीन घेरने पर दो पड़ोसियों में विवाद हो गया। गुरुवार दोपहर को विवाद इतना बढ़ा कि दोनों में जमकर लड़ाई हो गई। पुलिस की Dial-100 भी मौके पर पहुंची, लेकिन उसके सामने ही एक पक्ष ने पहले फौजी और उसके पिता व भाई की जमकर पिटाई की और फायरिंग कर दी। फायरिंग में फौजी के एक भाई की मौत हो गई और पिता व मां घायल हो गईं। फायरिंग के बाद हमलावर बंदूकें दागते हुए फरार हो गए ।
यह है मामला…..
– मुरार की सीपी कॉलोनी में गंगाधर सिंह भदौरिया रहते हैं। उनके सामने राजेश शर्मा का मकान बन रहा है। राजेश ने सड़क की जमीन पर अतिक्रमण करके बाउंडरी बनाना शुरू कर दी है। इस पर गंगाधर ने कई बार एतराज जताया। गुरुवार सुबह गंगाधर उनके फौजी बेटे सत्येन्द्र ने राजेश शर्मा से अतिक्रमण हटाने के लिए कहा। राजेश ने अतिक्रमण हटाने की बजाय अपने कुछ साथियों को बुला लिया।
– इसमें एक हिस्ट्रीशीटर बदमाश सोनू शर्मा भी था। दोनों पक्षों में जमकर लड़ाई होने लगी। राजेश और सोनू ने डंडा, फावड़ा लेकर गंगाधर और उनके तीन बेटे, सत्येंद्र, रविन्द्र, संजय के साथ उनकी मां थे छेमकली की जमकर पिटाई की।
पुलिस के सामने की फायरिंग
– झगड़े की खबर सुनकर पुलिस की Dial-100 टीम भी पहुंच गई, लेकिन विवाद नहीं रुका और सोनू ने पुलिस टीम के सामने ही बंदूक से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। यह गोली फौजी सत्येंद्र के भाई संजय को लगी।
– संजय के गोली लगते ही हमलावर फरार हो गए और पुलिस के जवान खड़े देखते रहे। घायल संजय के साथ पिता गंगाधर और फौजी सत्येंद्र को हॉस्पिटल पहुंचाया गया, जहां संजय की मौत हो गई।
इस हमले में फौजी सत्येंद्र और उसके पिता गंगाधर बुरी तरह घायल हैं और उनका इलाज जयारोग्य हॉस्पिटल में किया जा रहा है।
– इस बारे में मुरार सीएसपी रत्नेश तोमर का कहना है कि हमलावरों की तलाश जारी है, हालांकि पुलिस अपनी नाकामी से इनकार कर रही है। एडीशनल एसपी अभिषेक तिवारी ने बताया कि घटना के समय दो जवान थे और पूरे मामले की जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here