इंदौर में धूम धड़ाके से मनी दिवाली, घर घर में आई लक्ष्मी और समृद्धि

0
167

इंदौर. दीपावली पर शहर के विभिन्न महालक्ष्मी मंदिरों में सुबह से देर रात तक सुख-समृद्धि की कामना लिए भक्तों की लंबी कतारें लगी रही। सुबह महाभिषेक के साथ मंदिरों में अनुष्ठान व महालक्ष्मी का विशेष श्रृंगार किया गया। राजबाड़ा स्थित महालक्ष्मी का स्वर्ण श्रंृगार किया गया तो मल्हारगंज स्थित मंदिर में फूल बंगला सजा।
गुरुवार को राजबाड़ा स्थित होलकरकालनी प्राचीन महालक्ष्मी मंदिर में सुबह ४ बजे पंचामृत से महाभिषेक के साथ अनुष्ठान व श्री सुक्त के पाठ हुए। विशेष श्रृंगार के पश्चात शाम को ५६ भोग लगाया गया। देर रात तक दर्शन के लिए भक्तों कतार में लगे भक्तों ने कमल के फूल और सुगंधित द्रव्य चढ़ाकर महालक्ष्मी को घर पर आने का न्यौता दिया। मल्हारगंज स्थित महालक्ष्मी मंदिर में सुबह से देर रात तक विशेष पूजा-अर्चना की गई। मल्हारगंज स्थित महालक्ष्मी मंदिर में विशेष अनुष्ठान किए गए। पारंपरिक रजवाड़ी पोशाक में माता को सजाया गया।
उषा नगर महालक्ष्मी मंदिर : उषा नगर स्थित महालक्ष्मी मंदिर में विशेष पूजन के साथ सजावट की गई। स्वर्ण महल में विराजी महालक्ष्मी ने भक्तों को दर्शन दिए। रात को महाआरती हुई।
वेंकटेश मंदिर छत्रीबाग : नागोरिया पीठाधिपति स्वामी विष्णुप्रपन्नाचार्य के मंगलशासन से प्रभु श्री वेंकटेश व भगवती महालक्ष्मी का प्रात: रजत कलशों से महाभिषेक हुआ। वेंकटरमना गोविंदा की नाम जप परिक्रमा निकली। विष्णु सहस्त्रनाम, अल्वन्ददार स्तोत्र, वेंकटेश प्रपत्ति, वेंकटेश स्तोत्र के पाठ साथ ही भक्तों ने महालक्ष्मी की कुमकुम अर्चना की।
वैष्णवधाम बिचौली मर्दाना : श्री जागृति महिला मंडल ने मंदिर में फूलों का विशेष श्रृंगार किया। मंदिर प्रांगण को जगमग दीपों से सजाया गया। गीता भवन गीता भवन में दीपोत्सव के मुख्य महापर्व के उपलक्ष्य में सुबह परिसर स्थित महालक्ष्मी मंदिर में विशेष पूजा, अर्चना व अभिषेक हुआ।
खजराना गणेश मंदिर : महालक्ष्मी मंदिर पर वैश्य संगठनों के तत्वावधान में कुलदेवी महालक्ष्मी की पूजा, अभिषेक व महाआरती हुई. मंडल के अरविंद बागड़ी ने बताया, सभी प्रमुख वैश्य घटकों के पदाधिकारी महाआरती में शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here